फ़ैक्ट-चेक : अमेरिकी अभिनेत्री केटी होम्स की मैगजीन के लिए रीनएक्ट की गई तस्वीर जूलिया मार्केन के नाम से वायरल

Abhishek Kumar : एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है, जिसमें एक महिला कई लोगों के सामने अपने हाथ में ब्रा पकड़े नजर आ रही है, तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीर इटली की गायिका जूलिया मार्किन की है जो 1955 में ली गई थी. यह तस्वीर अलग-अलग भाषाओं में फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब, लिंक्डइन, 9GAG, रेडिट, इत्यादि पर भारत, पाकिस्तान और रूस में अलग-अलग भाषाओं में अलग दावों के साथ शेयर की जा रही है.

लोगों ने तस्वीर शेयर करते हुए लिखा "इटली की मशहूर गायिका जूलिया मार्किन ने 1955 में शहर के एक चौक पर खड़े होकर अपने सीने से ब्रा निकाली और लोगों से कहा, कितना दोगे? लोगों ने 3000 डॉलर तक बोली लगाई. आखिर में वो मुस्कुराई और बोली कितने बेवकूफ हो तुम लोग जो अपनी यौन इच्छाओं के लिए मामूली कपड़ों पर इतना पैसा खर्च कर देते हो, लेकिन गरीब लोगों का पेट नहीं भर सकते. मैं आपकी मानसिकता पर शर्मिंदा हूं और मुझे आपकी मानवता पर खेद है." 


कई जगह यह तस्वीर इस दावे के साथ शेयर की जा रही है कि यह तस्वीर 1969 में सेन फ्रांसिस्को में ली गई है जिसमें महिला ब्रा पहनने का विरोध कर रही है.


सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर वविभिन्न भाषाओं में वायरल दावों के लिंक्स

हिन्दी (फेसबुक, ट्विटर)

इंग्लिश (फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, रेडिट, 9GAG)

उर्दू (फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब, पाकिस्तानी न्यूज वेबसाइट)

रूसी (फेसबुक, ट्विटर, रेडिट, पिकाबू)

सिन्धी (यूट्यूब)


वायरल दावा (
हिन्दी)


वायरल दावा (इंग्लिश)


वायरल दावा (उर्दू)


वायरल दावा (रूसी)



फ़ैक्ट-चेक

वायरल तस्वीर को कुछ कीवर्ड्स के साथ रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें पिंटरेस्ट पर यह तस्वीर मिली जो हार्पर्स बाज़ार के वेरीफाइड अकाउंट से पोस्ट की गई थी, तस्वीर के साथ लिखा था "सामाजिक परिवर्तन की प्रतिष्ठित छवियाँ साबित करती है कि हमें अभी भी कितनी दूर जाना है" इस पोस्ट के साथ 20 नवंबर 2018 को अमेरिकी फैशन मैगजीन हार्पर्स बाज़ार की वेबसाइट पर प्रकाशित एक आर्टिकल का लिंक भी दिया गया था, इस आर्टिकल में उज़ो अडूबा, केटी होम्स व इशिया इवांस द्वारा सामाजिक परिवर्तन की आईकॉनिक तस्वीरों को रीनएक्ट करने की जिक्र है और रीनएक्ट की गई सभी तस्वीरें भी मौजूद है.



वायरल तस्वीर के कैप्शन में लिखा है "केटी होम्स ने प्रदर्शनकारी के बहादुरी को श्रद्धांजलि दी”. इस तस्वीर का क्रेडिट Zoey Grosman को दिया गया है, जब हमने जोए ग्रॉसमैन का इंस्टाग्राम अकाउंट खंगाला तो पाया की उन्होंने 20 दिसंबर 2018 को इस तस्वीर को इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते हुए लिखा “मेरी स्टोरी की एक और तस्वीर हार्पर्स बाज़ार के साथ इतिहास के प्रतिष्ठित क्षणों को दर्शाती है. 1969 में महिलाओं के अधिकारों के लिए एक प्रदर्शनकारी को श्रद्धांजलि देने के लिए मुझे इस छवि पर प्रतिभाशाली और अद्भुत केटी होम्स के साथ काम करने का मौका मिला”. केटी होम्स ने भी 20 नवंबर 2018 को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस तस्वीर को पोस्ट करते हुए हार्पर्स बाज़ार और जोए ग्रॉसमैन को टैग किया है. Katieholmes.com पर भी हमें यही जानकारी मिली.


हार्पर्स बाज़ार पर प्रकाशित आर्टिकल में केटी होम्स व अन्य की फ़ोटो शूटिंग सेशन का वीडियो भी मौजूद है. साथ ही वो तस्वीर भी है जिसका रीनएक्ट किया गया है, तस्वीर के कैप्शन में लिखा है "सेन फ्रांसिस्को में 1969 में डिपार्टमेंट स्टोर के बाहर प्रोटेस्ट करती एक प्रदर्शनकारी”. जब हमने प्रदर्शनकारी के तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें Getty Images की साइट Photos.com पर यह तस्वीर मिली जिसके कैप्शन में लिखा है “सैन फ़्रांसिस्को डिपार्टमेंट स्टोर के बाहर ब्रा-विरोधी प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारी अपनी ब्रा उतारते हैं.”


कुछ कीवर्ड सर्च करने पर हमें CR Fashion Book की एक आर्टिकल मिली जिसमें प्रोटेस्टर की तस्वीर के साथ लिखा था “जैसे-जैसे महिला मुक्ति आंदोलन जारी रहा, ब्रा-बर्निंग और नारीवादियों के बीच संबंध को अक्सर आंदोलन का विरोध करने वालों द्वारा जोड़ा गया.  फिर भी, कुछ महिलाओं ने स्त्रीत्व के पारंपरिक विचारों को अस्वीकार करने के लिए ब्रा पहनना छोड़ दिया. 1969 में सैन फ्रांसिस्को डिपार्टमेंट स्टोर के बाहर एक प्रदर्शन के दौरान एक प्रोटेस्टर ने अपनी ब्रा उतार दी.”


इस फ़ैक्ट-चेक में हमने पाया कि वायरल तस्वीर ना तो जूलिया मार्किन की है और ना ही यह तस्वीर 1955 या 1969 की है. वायरल तस्वीर अमेरिकी अभिनेत्री केटी होम्स की है जिसे 2018 में शूट किया गया था. इस फोटोशूट में 1969 में सेन फ्रांसिस्को में ली गई एक प्रोटेस्टर की आइकोनिक इमेज को महिला फैशन मैगजीन के लिए रीनएक्ट किया गया है.